पेट की चर्बी कैसे करें कम? How to reduce belly fat?

पेट की चर्बी कैसे करें कम?

सवाल...


मेरा वज़न बढ़ गया है और पेट पर चर्बी भी जमा हो गई है। वज़न कम करने और पेट की चर्बी घटाने के कोई उपाय बताएं? - दीपक चौधरी, ई-मेल पर

https://www.cgdmt.in/2022/05/how-to-reduce-belly-fat.html?m=1
 पेट की चर्बी कैसे करें कम? 

जवाब....


मुस्त जीवनशैली और ख़राब खानपान की वजह से आपका वज़न बढ़ सकता है। मोटापे की समस्या आनुवांशिक भी होती है। थायरॉयड़ हॉर्मोन की अनुपस्थिति में मेटाबॉलिज़्म कमज़ोर हो जाता है जिसके कारण वज़न तेज़ी से बढ़ता है। इसलिए थायरॉयड की जांच कराना भी ज़रूरी है।


उपाये


1.व्यायाम करें...


वज़न और पेट की चर्बी कम करने के लिए मेटाबॉलिक रेट बढ़ाएं। इसके लिए नियमित रूप से व्यायाम करें। इससे शरीर से एक हॉर्मोन स्रावित होता है जो मेटाबॉलिक रेट को तेज़ करता है और शरीर में जमा फैट कम होने लगता है। पेट, हाथ और छाती में जमी चर्बी भी मेटाबॉलिक रेट तेज़ होने पर घटना शुरू हो जाती है। कम से कम 45 मिनट, सप्ताह में 5 बार एक्सरसाइज़ करें।


2.आहार बदलें...


S आहार में ज़्यादा तैलीय या तला भुना खाने से शरीर में वसा का जमाव शुरू हो जाता है। जंक फूड भी मोटापे का एक कारण है। इसके बजाय घर में बने संतुलित भोजन का सेवन करें। खाना खाने से पहले सलाद ज्यादा खाएं। आहार में हरी पत्तेदार सब्जियां और फल शामिल करें। भूख से अधिक ना खाएं क्योंकि आवश्यकता से अधिक खाया गया भोजन न पचने पर वसा के रूप में पेट के आस-पास जमा हो जाता है। जिससे मोटापा बढ़ता है। ●


3.प्रोटीन लें...


प्रोटीन मोटापा घटाने में मददगार होता है। शाकाहारी है तो पनीर, दही, दाल और राजमा का सेवन करें।गुनगुना पानी पिएं... गुनगुना पानी पीने से मेटाबोलिज्म एक्टिवेट हो जाता है जिससे वज़न कम होता है। साथ ही शरीर में पानी की आपूर्ति भी होती है और पेट पर जमा अतिरिक्त वसा घटने लगता है। फल और जूस का भी सेवन करें।


4.रात्रि का भोजन...


दोपहर के भोजन में अपनी नियमित कैलोरी का 50 फीसदी सेवन करें क्योंकि इस समय पाचन शक्ति मजबूत होती है। रात्रि के भोजन में कम से कम कैलोरी लें और शाम 7 बजे से पहले रात का खाना खाएं। रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट जैसे मिठाई, मीठे पेय और तेलीय खाद्य पदार्थों से परहेज करें।


5.शहद का सेवन...


हल्के गर्म पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं। चाहे तो इसमें कुछ बूंदें नींबू की भी डाल सकते हैं। प्रतिदिन सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।


6.नींद लें...


नींद पूरी न लेने से हॉर्मोन का स्तर बिगड़ जाता है और भूख लगते लगती है जिससे वज़न बढ़ जाता है। इसलिए रोज़ाना कम से कम 8 घंटे की नींद जरूर लें।


7.तनाव मुक्त रहें...


तनाव करने से शरीर में कोर्टिसोल हॉमोन स्रावित होता है जिससे भूख बढ़ती है। तनाव के चलते अक्सर अधिक कैलोरी वाले खाद्य या कई बार ज़रूरत से ज्यादा खाने लगते हैं जिससे वजन में वृद्धि हो जाती है।


आहार विशेषज्ञ से आहार तालिका बनवाएं। चिकित्सक की सलाह पर व्यायाम की सही पद्धति अपनाते हुए व्यायाम करें। ध्यान रखें कि वजन बढ़ता तेज़ी से है, लेकिन घटने में समय लगता है, तो कोई तुटल-फुरत वाले तरीकों पर भरोसा ना करें।


Post a Comment

Previous Post Next Post
© 2022-2025 All Rights Reserved By www.cgdmt.in